सेब सेटिंग PGR गोरखधंधे की जांच, फसल बेचने के लिए मंडी में टोकन …

0
1094
सोशल मीडिया पर डायरी शेयर करें

सेब पर गैरकानूनी तौर से इस्तेमाल किए जा रहे प्लांट ग्रोथ रेगुलेटर , प्रोमोलीन, परलेन जैसे उत्पादों की गैरकानूनी बिक्री पिछले कुछ सालों से हिमाचल में बढ़ी है ।गैरकानूनी तौर से बिक रहे इन उत्पादों के मामले में अब हिमाचल प्रदेश सरकार ने जांच के आदेश दिए है ।

तापमान में आए एकदम उछाल से बागवांनी को खतरा हो सकता है । इससे फूलों के फल बनने के क्रम में दिक्कत हो सकती है ।

आगामी महीनों में ओलो से सेब की फसल को बचाने के लिए ऊंचाई वाले क्षेत्रों में बागवानों ने जाली का इस्तेमाल करना शुरु कर दिया है । ध्यान में रहें कि ओलावर्ष्टि को रोकने के लिए कई क्षेत्रों में एंटी हैल गन भी लगाई गई है । जिसके इस्तेमाल के लिए जरूरी डाप्लर रडार का लगना अभी बाकी है ।

समतल क्षेत्रों में कोरोना की वजह से फसलों की कटाई में कोई बाधा न बने इसके लिए सरकार ने टोकन व्यव्यस्था शुरू की है ।

कृषि क्षेत्र को कोई नुकसान न हो इसके लिए सरकार हर संभव कोशिश कर रही है ।

चैरी के लिए पेटियों की व्यवस्था और उनको बेचने के लिए मंडी

रासायनिक उत्पादों की आपूर्ति में बाधा

Like Us

सोशल मीडिया पर डायरी शेयर करें